दुनिया के अज़ीब रेलवे ट्रैक (Railway Tracks) जिसे देख के आप हैरान हो जाएंगे

आज हम आपको कुछ ऐसे Railway Track  बातएंगे जिसे देख कर हैरान हो जाएंगे।  तो चलिए बिना ज्यादा टाइम बर्बाद किये शुरू करते है।

railway track

Ukraine’s Tunnel of love Railway Track: टनल ऑफ़ लव-यूक्रेन

यूक्रने टनल ऑफ़ लव (Railway track)नाम सुनते ही पता चल गया होगा ये रोमांटिक रैलवे ट्रैक(Railway track)है,ये रेलवे ट्रैक(railway track)यूक्रने के केलविन शहर के पास में है, यह 3 किलोमीटर का एक  प्राइवेट रेलवे ट्रैक है जो हरे-भरे  खूबसूरत पेड़ो से  होकर गुजरती है जिस को देख के ऐसा लगता है की हम किसी शाही बाग़ीचे में है है।

दरअसल, यह ट्रैक  फायर बोर्ड फैक्ट्री का है। इस ट्रैक से दिन में अधिकतम तीन ही बार ट्रैन गुज़रती है । ट्रेन ,यहाँ से लकड़ी ढो कर ले जाती है, दिन में सिर्फ तीन बार इस रेलवे ट्रैक से गुज़रती है  हुए समय में यहाँ पर कपल ही रहते है और यहाँ आकर खो जाते है,और  पार्टनर के साथ फोटो क्लिक करते है। यह railway track दुनिया का सबसे खूबसूरत टनल कहा  है।

Gisborne, railway track एयरपोर्ट के बीच में रेलवे ट्रैक

railway-track-gisborne
railway-track-gisborne

अगर आप से कहा जाये की एक रेलवे ट्रैक (railway track) जो एयरपोर्ट(airport) के बीच से होकर गुज़रता है तो क्या आप को यकीन होगा ?? लेकिन जी हाँ ये बात सच है, 1939 में शुरू भाप इंजन जो की न्यू ज़ीलैण्ड  (New zealand) के गिसबॉर्न शहर में है, ये railway track एयरपोर्ट के बीच से होकर जाता है। इस ट्रैक पर दुर्घटना होने की आशंका हमेशा बना रहता है फिर भी दुर्घटना न हो इसके लिए जब भी ट्रैन या प्लेन किसी की भी आना होता है तो पहले एयरपोर्ट पे जानकारी देने के बाद सब अच्छी तरह से चेक होने के बाद ही ट्रैन को  जाता है या प्लेन को लैंड कराया जाता है। 

 

Georgetown Loop Railroad (USA)जॉर्जटाउन लूप रेल रोड

railway-track-georgetown-loop
railway-track-georgetown-loop

Georgetown Loop Railroad (USA)की उचाई और सुंदरता दोनों लाजवाब है इसी वजह से ये railway track हमेशा चर्चा में बना रहता है।यह रेल मार्ग यूएसए के कोलोराडो की क्लियर क्रीक कंट्री के रॉकी पर्वत पर स्थित है।  1884 में यह बनकर तैयार हो गया था। यह रेल मार्ग जॉर्जटाउन और सिल्वर प्लम माउंटेन से होकर भी गुजरता है। कोलोराडो और इस दक्षिण रेलमार्ग का इस्तेमाल 1899 से लेकर 1938 के बीच पैसेंजर ट्रेन और माल गाड़ी के लिए किया जाता था। 1939 में इसे बंद कर दिया गया था. परन्तु 1984 में 100 वर्ष पूरे होने पर पर्यटन सेवाएं प्रदान करने के उदेश्य से फिर से इसको शुरू कर दिया गया था।

यह भी पढ़े : यूट्यूब से म्यूजिक कैसे डाउनलोड करें 

रामेश्वरम रेलमार्ग, चेन्नई (Rameshwaram Railway track, Chennai)

 

 

समुद्र पर बना 2.06 लंबा पुल दक्षिण भारतीय महानगर चेन्नई को रामेश्वरम से जोड़ता है, इसका नाम पंबन  है। इस पुल की लम्बाई तकरीबन 2 किलोमीटर है और इसका निर्माण कार्य अगस्त 1911 में शुरू किया गया था और 24 फरवरी 1914 में यह बनकर तैयार हो गया था। जब भी जरुरत होती है या जहाज को वहाँ से जाना होता है तो ब्रिज की बीच से ब्रिज को ओपन कर दिया जाता है, जिसे देखना बहुत ज्यादा रोमांचक होता है।  कंक्रीट के 145 पिलर पर ये ब्रिज रुका हुआ है, इस ब्रिज को हमेशा सुमद्री तूफान और लहरों से खतरा बना रहता अंत इस ट्रैन से सफर करना सबसे ज्यादा रोमांचक है।

chhennai rammeshwaram railway track

यह भी पढ़े :Amazing bordors- दुनिया के अनोखे ,सबसे अज़ीब इंटरनेशनल बॉर्डर जिसे आप देख के हैरान हो जायेंगे

मैकलॉन्ग रेलवे मार्केट,थाईलैंड(Maeklong Market Railway, Thailand)

railway-track-maeklong-food-market

क्या आपने भरे बाज़ार से ट्रेन को गुजरते हुए देखा है नहीं ना, थाईलैंड का मैकलॉन्ग रलवे मार्केट एक लोकल मार्किट है जहाँ पर रेलवे लाइन बिछाई गई है और वो भी मार्किट के बीचो बीच में स्थित है,यहाँ पर जब भी इस railway track पर ट्रैन आती है तब सरे व्यापारी अपने सामान को हटा लेते है, जब ट्रैन मार्केट को चोर आगे बढ़ जाती है तब सभी व्यापारी अपनी दुकान वापस से लगा लेते है और सबसे खास बात ये जब ट्रैन इस railway track से होकर गुज़रती है तब इसकी स्पीड काम होती है।

यह भी पढ़े :Famous Building – दुनिया में सबसे अधिक विचित्र और आकर्षक इमारत

बर्मा रेलवे (द डेथ रेलवे) (Burma railway, The death Railway)

burma death railway track

“डेथ रेलवे” जिसका नाम ही डेथ से हो वो खतरनाक न हो ऐसा हो सकता है,यह रेलमार्ग बैंकॉक, बर्मा रेलवे, थाईलैंड, रंगून, और बर्मा के मध्य में स्थित है और इसकी लम्बाई 415 किलोमीटर है। इस railway track का नाम डेथ रेलवे इसलिए पड़ गया क्यूंकि इसके निर्माण के समय में लगभग एक लाख से ज्यादा लोगो ने अपने जान से हाथ धो बैठे थे,कवई नदी में गिरने से, इस ट्रैक को 1947 में दस साल के लिए बंद कर दिया गया था फिर इसे दुबारा 1957 ओपन किया गया।

 

ट्रेन ए लास न्यूब्स, अर्जेंटीना (Tren a las Nubes, Argentina)

ट्रेन ए लास न्यूब्स, अर्जेंटीना

 

यह विश्व की 5वीं सबसे ऊची रेल सर्विस हैं. जिस ब्रिज से यह ट्रेन होकर गुजरती है वो अर्जेंटीना में समुद्र तल से चार हजार मीटर की ऊंचाई पर एंडीज पर्वत श्रृंखला में स्थित है जिसे ‘ट्रेन टू द क्लाउड’ भी कहा जाता है. इस रेलवे लाइन में 29 ब्रिज (bridges), 21 सुरंगें (tunnels), 13 वियाडक्ट्स (viaducts), 2 स्पाइरल (spirals) और 2 जिग जेग (zig zag) हैं. यह ट्रेन 16 घंटे के सफर में 217 किमी की यात्रा करती है, जिसमें 3000 मीटर की चढ़ाई भी चढ़ती है. इस रेलमार्ग का निर्माण 1920 में हुआ था और इस प्रोजेक्ट के हेड अमेरिकी इंजीनियर रिचर्ड फोन्टेन मरे थे। 

Also read : How to Earn Money from Fest Wishes with name or Whatsapp festival sharing script

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.