Dadi Ki Rasoi : Lunch In 5 Rupees|Anoop Khanna 5 रुपये में भरपेट खाना

Dadi Ki Rasoi

भरपेट खाना सिर्फ 5 रुपये में (देसी घी से बना हुआ) | Dadi Ki Rasoi : Lunch In 5 Rupees | Anoop Khanna

दोस्तों महंगाई के इस जवाने में सिर्फ 5 रुपये में भर पेट खाने की बात नामुमकिन सी लगती है लेकिन भारत में एक ऐसे इंसान मौजूद है, जिन्होंने इस सपने को सच करने की जिम्मेदारी अपने सर उठा लिया जी हां दोस्तों मई बाद कर रहा हूँ नॉएडा में रहने वाले समाज सेवी अनूप खन्ना (anoop khanna)जी के बारे में, जिन्होंने किसी इंसान की सबसे अहम् जरूरत खाने को  उपलब्ध कराया है  गरीब  व्यक्ति भीख मांग के खाने से अच्छा पैसे देकर आत्मसम्मान से खाना पसंद करता है

Dadi Ki Rasoi

Anoop Khanna Noida में दादी की रसोई (Dadi Ki Rasoi)  food stall चलाते है, जहा पे कोई भी व्यक्ति महज 5 रूपया देकर देसी घी से बना हुआ शुद्ध खाना खा सकता है। और अपने इस समाज सेवा से अनूप हर दिंड सैकड़ो भूखे लोगों को खाना उपलब्ध कराते है।अनूप खन्ना (Anoop Khanna) उत्तर प्रदेश में मुरादाबाद के रहने वाले है लेकिन 80 के दसक में वो Noida आकर बस गए जहा उन्होंने दवा बेचने का काम शुरू कर दिया और दोस्तों बाद किये जाये दादी की रसोई (Dadi Ki Rasoi) जैसे सराहनीय कदम की तो इसकी शुरुआत अनूप जी ने अगस्त 2015 में की थी और इस काम को शुरू करने के पीछे वह अपनी माँ का बहुत बड़ा हाथ बताते है। अनूप का कहना है की उनकी माँ की उम्र जैसे जैसे बढ़ रही थी वैसे वैसे बीमारियों की वजह से उनके खाने की मात्रा भी काम होती जा रही थी और फिर अनूप खन्ना (Anoop Khanna) की माँ ने अपने हिस्से के खाने को गरीब और जरुरतमंदो को देने की इच्छा जाहिर की।

Dadi Ki Rasoi भरपेट खाना सिर्फ 5 रुपये में (देसी घी से बना हुआ) | Dadi Ki Rasoi : Lunch In 5 Rupees | Anoop Khanna

अपनी माँ की सोच से प्रभावित होकर अनूप जी ने दादी को रसोई की शुरुआत कर दी वैसे तो अनूप खन्ना (Anoop Khanna) का कहना है की अलग अलग देशो में अलग अलग संस्था भुखमरी को ख़त्म करने के लिए बहुत मेहनत कर रही है लेकिन सच में इस समस्या को समाज से मुक्त करना है तो हर व्यक्ति को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी और कंधे से कन्धा मिलाकर इस छेत्र में काम करना होगा। अनूप खन्ना ने बताया की दादी की रसोई (Dadi Ki Rasoi) की शुरुआत करते समय उन्होंने इस आईडिया को अपने कुछ दोस्तों के साथ शेयर किया और उनमे से कुछ लोग तो उनका साथ देने के लिए तैयार भी हो गए लेकिन दोस्तों समाज सेवा का जज्बा लोगो में ज्यादा दिन तक चलता कहा है। अगले दिन जब शुरुआत की बाद आई तो अनूप के अलावा उनके साथ के सभी लोग कोई न कोई बहाना करके पीछे हट गए।

Dadi Ki Rasoi भरपेट खाना सिर्फ 5 रुपये में (देसी घी से बना हुआ) | Dadi Ki Rasoi : Lunch In 5 Rupees | Anoop Khanna

दोस्तों अनूप का इस कदम से केवल गरीब का पेट भरना ही नहीं है बल्कि अच्छी और शुद्ध quality का खाना खिलाना भी है।शुरू में इस फ़ूड स्टाल के जरिए केवल 15 से 20 लोग ही खाना खा पाते थे लेकिन समय बीतने  ही यह संख्या बढ़ती चली गयी, दादी की रसोई (Dadi Ki Rasoi) में आमतौर पर देसी घी की तड़के वाली दाल, चावल, अचार, रोटी और सब्जी उपलब्ध कराई जाती है। सबसे दिलचस्प बात तो यह है की सारा खाना फ़िल्टर के पानी से ही बनाया जाता है। अब तो इस सराहनीय कदम में अनूप खन्ना (Anoop Khanna) का साथ देने के लिए बहुत सारे लोग उनकी मदद भी कर रहे है। दादी की रसोई (Dadi Ki Rasoi) के सफल होने के बाद अनूप जी ने गरीब लोगो के लिए एक कपड़े की दुकान भी खोली है। यहाँ पे लोग अपने पुराने कपड़े जैसे की लोग फैंसी कपड़े शादी के कपड़े  और भी बहुत सारे कपडे दे जाते है और उस कपड़े को ड्राई क्लीन कराके यह जो कपडे थोड़ा सा फटे है  करा के गरीबों को देते है उस कपड़े से किसी की बेटी तो किसी की बहन की शादी में इस्तेमाल हो जाता है और उस कड़े का रेंट सिर्फ ड्राई-क्लीन के पैसे लिए जाते है।

Kailasavadivoo Sivan Chandrayaan 2 के हीरो Rocket Man Biography|ISRO

Ranu Mandal|Railway Station to Bollywood

Dadi Ki Rasoi भरपेट खाना सिर्फ 5 रुपये में (देसी घी से बना हुआ) | Dadi Ki Rasoi : Lunch In 5 Rupees | Anoop Khanna

अंत में बस यही कहना चाहूंगा अनूप ने दादी की रसोई (Dadi Ki Rasoi) की शुरुआत करके जो सराहनीय कदम उठाया है वो सच में काबीले तारीफ है। अनूप खन्ना (Anoop Khanna) से हमे भी कुछ सीख लेना चहिए और हमे भी जरुरतमंदो की मदद करनी चहिये।  उम्मीद करते आपको दादी की रसोई (Dadi Ki Rasoi) की कहानी की जान के अच्छा लगा होगा आपका बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद जल्द मिलते है एक नई लाइफ स्टोरी के साथ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.